Mobikwik: लाभप्रदता की ओर मजबूत कदम, Prepaid Payment instruments 2024 में 23% तक पहुंच गया है।

  Mobikwik  सहसंस्थापक उपासना टाकु FY24 में सफलता को लेकर आश्वस्त है।

Mobikwik का Prepaid payment instruments (PPI)  बहुत तेजी से बढ़ रहा है। मई में 23% तक पहुंच गया है। साथ ही  कंपनी IPO के लिए तैयार है। दोस्तों जैसा की  आपको पता है।मोबाइल  वॉलेट और वित्तीय सेवाओं का प्लेटफॉर्म और पयोगकर्ताओं को पैसे भेजने और प्राप्त करने, व्यवसायों और उपयोगिता बिलों का भुगतान करने, ऑनलाइन या स्टोर्स में खरीदारी करने, और त्वरित डिजिटल ऋण जैसी वित्तीय उत्पादों तक पहुंच प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करने वाली कंपनी Mobikwik  और उसके सह-संस्थापक उपासना टाकु  ने लेकर आश्वस्त की  FY24  कंपनी के लिए बहुत अच्छा होने वाला है।   क्यों की कंपनी का Prepaid payment instruments (PPI)  बहुत तेजी से बढ़ रहा है।

Mobikwik & Prepaid payment instruments (PPI) 2024

  • Mobikwik वित्तीय वर्ष 2023-24 में लाभप्रदता हासिल करने की राह पर है, सह-संस्थापक और सीएफओ उपासना टाकु के अनुसार।
  • कंपनी का Prepaid payment instruments (PPI) वॉलेट तेजी से बढ़ रहा है, मई में 23% तक पहुंच गया है।
  • Mobikwik ने खर्चों को आधा कर दिया है, जिससे लाभप्रदता में सुधार हुआ है।
  • कंपनी IPO के लिए तैयार है और अगले सप्ताह वित्तीय वर्ष 24 के परिणाम जारी करने की उम्मीद है।

Prepaid Payment instruments Mobikwik

Mobikwik IPO 2024 IPO की तैयारी में

Mobikwik, एक फिनटेक यूनिकॉर्न जो IPO की तैयारी कर रहा है, वित्तीय वर्ष 2023-24 में महत्वपूर्ण प्रगति कर रहा है। कंपनी पूरे वर्ष लाभप्रदता हासिल करने के लिए तैयार है, यह दर्शाता है कि यह एक मजबूत और टिकाऊ व्यवसाय मॉडल विकसित कर रहा है।

वॉलेट की मात्रा 23% तक बढ़ गया

इस सफलता के पीछे मुख्य कारक Prepaid payment instruments (PPI) वॉलेट में मजबूत वृद्धि है। मई में, वॉलेट की मात्रा 23% तक बढ़ गई, जो दर्शाता है कि अधिक से अधिक लोग भुगतान के लिए Mobikwik का उपयोग कर रहे हैं।

इसके अलावा, कंपनी ने अपनी लागतों को भी कम किया है, जो लाभप्रदता को और बढ़ावा देता है। 2024 की पहली छमाही में, Mobikwik ने अपने खर्चों को 50% तक कम कर दिया, जिससे उसे लाभप्राप्ति में मदद मिली।

कुल मिलाकर, Mobikwik मजबूत वित्तीय प्रदर्शन दिखा रहा है और IPO के लिए तैयार है। सह-संस्थापक और सीएफओ उपासना टाकु FY24 में सफलता को लेकर आश्वस्त हैं, और कंपनी आने वाले वर्षों में और भी अधिक विकास हासिल करने की उम्मीद करती है।

सारांश

Mobikwik लाभ की ओर बढ़ रहा है! कंपनी Prepaid payment instruments भुगतान वॉलेट की मजबूत वृद्धि और लागत में कटौती के कारण वित्तीय वर्ष 2023-24 में लाभ कमाने की राह पर है।

अर्थात, Mobikwik इस वित्तीय वर्ष में लाभ कमाने की उम्मीद कर रहा है, जो इस बात का संकेत है कि कंपनी एक मजबूत और टिकाऊ व्यापार मॉडल विकसित कर रही है।

और अधिक जानकारी के लिए ये भी पढ़े। इंडियन ऑयल का बड़ा लक्ष्य: 2030

For Update Click Here  (और अधिक जानाकरी के लिए यहां क्लिक करें।)  

FOR MORE UPDATECLICK HERE
FACEBOOK PAGECLICK HERE
FACEBOOK GROUPCLICK HERE
WHATSAPP GROUPCLICK HERE
TELIGRAM GROUPCLICK HERE
YOUTUBECLICK HERE

 

प्रश्न:Mobikwik के लिए वित्तीय वर्ष 2023-24 कैसा रहने वाला है?

उत्तर:Mobikwik के लिए वित्तीय वर्ष 2023-24 काफी अच्छा रहने वाला है। कंपनी इस पूरे वर्ष लाभ कमाने की उम्मीद कर रही है।

प्रश्न: Mobikwik की लाभप्रदता में क्या मदद कर रहा है?

उत्तर: Mobikwik की लाभप्रदता में दो मुख्य कारक मदद कर रहे हैं: पहला, कंपनी के Prepaid payment instruments (PPI) वॉलेट में मजबूत वृद्धि और दूसरा, लागत में कटौती।

प्रश्न: Mobikwik के PPI वॉलेट का प्रदर्शन कैसा रहा है?

उत्तर: Mobikwik के Prepaid payment instruments (PPI )वॉलेट ने शानदार प्रदर्शन किया है। मई तक, वॉलेट की मात्रा में 23% की वृद्धि देखी गई है, जो दर्शाता है कि अधिक लोग भुगतान के लिए Mobikwik का इस्तेमाल कर रहे हैं।

प्रश्न: Mobikwik ने लागत कम करने के लिए क्या कदम उठाए?

उत्तर: लेख में इस बारे में विशिष्ट जानकारी नहीं दी गई है कि Mobikwik ने लागत कम करने के लिए क्या कदम उठाए, लेकिन यह बताया गया है कि कंपनी ने अपने खर्चों में 50% की कमी की है।

प्रश्न: Mobikwik की भविष्य की योजनाएं क्या हैं?

उत्तर: Mobikwik IPO के लिए तैयार है और आने वाले वर्षों में और भी अधिक विकास हासिल करने की उम्मीद कर रही है।

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड और क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड कौन सा है सबसे बेस्ट ?quant flexi cap vs parag parikh flexi cap

 

दोस्तों आइये समझते है। quant flexi cap vs parag parikh flexi cap review इससे हिंदी में समझने की कोशिश करते है। इन दो प्रमुख फ्लेक्सी कैप फंड्स को उनके उनके प्रदर्शन, रिटर्न, और जोखिम के आधार पर समझते है। कौन सा बेस्ट है ? सबसे पहले देखते है। पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड (डायरेक्टग्रोथ) की समीक्षा (Review) (parag Parikh flexi cap fund direct growth)

फंडकी मुख्य विशेषताएं:

  • प्रकार: फ्लेक्सी कैप (flexi cap)
  • लॉन्च के बाद से रिटर्न: 21.09% सालाना (Yearly)
  • रिटर्न की निरंतरता: यह फंड फ्लेक्सी कैप श्रेणी में लगातार रिटर्न देने वाले सर्वश्रेष्ठ फंडों में से एक है।
  • अस्थिरता (volatility) से बचाव: यह फंड अस्थिरता (volatility) से बचाने में उत्कृष्ट है।
  • रिटर्न में बेहतर प्रदर्शन: पिछले 10 वर्षों में इस फंड ने सर्वाधिक रिटर्न दिया है।
  • संभावना: 5 साल तक निवेश रखने पर 70% मामलों में 16.23% वार्षिक रिटर्न दिया है।
  • रिटर्न/जोखिम: यह फंड जोखिम की प्रत्येक इकाई पर 20% ज्यादा रिटर्न देता है।
  • एग्जिट लोड: 10% से अधिक राशि निकालने पर 365 दिन के अंदर 2% और 365 दिन के बाद 1% निकास शुल्क।
  • कुल संपत्ति प्रबंधन (AUM): ₹66,384 करोड़
  • लॉकइन पीरियड: नहीं
  • फंड की आयु: 11 वर्ष 1 माह (13 मई 2013 से)
  • बेंचमार्क: निफ्टी 500 ट्राई (NIFTY 500 TRI)

quant flexi cap vs parag parikh flexi cap

Asset allocation parag parikh flexi cap fund (31 मई 2024 तक):

  • इक्विटी: (Equity) 83.89%
  • डेट: (debt )15.21%
  • अन्य:((other) 0.89%

शीर्ष होल्डिंग्स🙁 Top holdings parag parikh flexi cap fund current year 2024)

  1. एचडीएफसी बैंक लिमिटेड (hdfc bank ltd) (8.42%)
  2. पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड ( PGCIL) (6.35%)
  3. बजाज होल्डिंग्स एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड (Bajaj Holdings and Investment Ltd) (6.03%)
  4. आईटीसी लिमिटेड  (ITC Limited ) (5.45%)

शीर्ष सेक्टर🙁 Sector allocation by parag parikh flexi cap fund)

  1. वित्तीय (Financial) (30.97%)
  2. सेवाएं (Services) (13.30%)
  3. प्रौद्योगिकी (Technology) (9.28%)
  4. ऊर्जा (Energy) (7.25%)

क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड डायरेक्टग्रोथ की समीक्षा ( quant flexi cap direct growth Review)  

फंड की मुख्य विशेषताएं: (Key Features of quant flexi cap fund)

  • रिटर्न की निरंतरता: (Constancy of Returns:) यह फंड फ्लेक्सी कैप श्रेणी में निरंतर रिटर्न देने वाले श्रेष्ठ फंडों में से एक है।
  • संभावना (Possibility🙂 5 साल तक निवेश रखने पर 70% मामलों में 17.25% वार्षिक रिटर्न दिया है।
  • फंड की आयु: (Age of the fund) 11 वर्ष 6 माह (01 जनवरी 2013 से)
  • एग्जिट लोड: (Exit load )15 दिनों के भीतर रिडीम करने पर 1% एग्जिट लोड।
  • रिटर्न में बेहतर प्रदर्शन: (Better performance in returns) पिछले 10 वर्षों में इस फंड ने सर्वाधिक रिटर्न दिया है।
  • रिटर्न/जोखिम: (Return/Risk:) यह फंड जोखिम की प्रत्येक इकाई पर 20% ज्यादा रिटर्न देता है।
  • अस्थिरता (volatility) से बचाव: (यह फंड अस्थिरता से बचाव के मामले में निचले स्थान पर है।
  • कुल संपत्ति प्रबंधन (AUM): ₹6,272 करोड़
  • लॉकइन: नहीं
  • बेंचमार्क: निफ्टी 500 ट्राई (NIFTY 500 TRI)

(Asset allocation quant flexi cap direct (31 मई 2024 तक):

  • इक्विटी: (Equity) 92.98%
  • डेट: (debt )3.56%
  • अन्य:(Other) 3.47%

शीर्ष होल्डिंग्स:(Top Holding of quant flexi cap fund)

  1. रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (Reliance Industries Limited) (9.46%)
  2. एचडीएफसी बैंक लिमिटेड (HDFC Bank Limited) (5.87%)
  3. अदानी पावर लिमिटेड (Adani Power Limited) (5.16%)
  4. कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड (Kotak Mahindra Bank Limited) (4.82%)

शीर्ष सेक्टर: 🙁 Sector allocation by quant flexi cap fund)

  1. वित्तीय (Financial) (25.42%)
  2. ऊर्जा (Energy) (21.75%)
  3. उपभोक्ता सामान Consumer goods (7.89%)
  4. हेल्थकेयर Healthcare (6.77%)

तुलना सारणी: quant flexi cap vs parag parikh flexi cap compare (कौन सा फण्ड सबसे अच्छा है ? parag parikh या quant flexi cap fund ?

तुलना सारणी: quant flexi cap vs parag parikh flexi cap
विशेषतापराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंडक्वांट फ्लेक्सी कैप फंड
प्रकार(Type of Fund)फ्लेक्सी कैप (flexi cap)फ्लेक्सी कैप (flexi cap)
लॉन्च के बाद से रिटर्न21.09% सालाना20.04% सालाना
रिटर्न की निरंतरताउत्कृष्टउत्कृष्ट
अस्थिरता से बचावउच्चनिम्न
रिटर्न में बेहतर प्रदर्शनपिछले 10 वर्षों में सर्वाधिक रिटर्नपिछले 10 वर्षों में सर्वाधिक रिटर्न
संभावना70% मामलों में 16.23% वार्षिक रिटर्न70% मामलों में 17.25% वार्षिक रिटर्न
रिटर्न/जोखिम20% ज्यादा रिटर्न20% ज्यादा रिटर्न
एग्जिट लोड10% से अधिक राशि निकालने पर 1-2%15 दिनों के भीतर रिडेम्पशन पर 1%
फीस अनुपात0.62%0.59%
कुल संपत्ति प्रबंधन (AUM)₹66,384 करोड़₹6,272 करोड़
लॉक-इन पीरियडनहींनहीं
फंड की आयु11 वर्ष 1 माह11 वर्ष 6 माह
बेंचमार्कनिफ्टी 500 ट्राईनिफ्टी 500 ट्राई
इक्विटी आवंटन83.89%92.98%
डेट आवंटन15.21%3.56%
अन्य आवंटन0.89%3.47%
शीर्ष होल्डिंग्सएचडीएफसी बैंक लिमिटेड, पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन, बजाज होल्डिंग्स, आईटीसी लिमिटेडरिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड, एचडीएफसी बैंक लिमिटेड, अदानी पावर लिमिटेड, कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड
शीर्ष सेक्टरवित्तीय, सेवाएं, प्रौद्योगिकी, ऊर्जावित्तीय, ऊर्जा, उपभोक्ता सामान, हेल्थकेयर

 

निष्कर्ष (quant flexi cap vs parag parikh flexi cap)

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड और क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड दोनों ही निवेशकों के लिए उत्कृष्ट विकल्प हैं। पराग पारिख फंड अधिक स्थिरता और कम अस्थिरता के लिए उपयुक्त है, जबकि क्वांट फंड उच्च रिटर्न की संभावना के साथ अधिक जोखिम उठाने वाले निवेशकों के लिए आदर्श है। निवेशक अपनी जोखिम सहनशीलता और निवेश लक्ष्यों के अनुसार इन फंडों का चयन कर सकते हैं।

Disclaimer

यह जानकारी केवल शैक्षिक उद्देश्यों के लिए है और इसे वित्तीय सलाह नहीं माना जाना चाहिए। किसी भी निवेश निर्णय लेने से पहले, एक योग्य वित्तीय सलाहकार से परामर्श करें जो आपके जोखिम सहनशीलता और निवेश लक्ष्यों को ध्यान में रख सके।

अगर आप स्टॉक मार्किट निवेश करते है। और SIP के बारे में जानना चाहते है तो इस ब्लॉग पोस्ट को पढ़े।

Tata Elxsi share Price 2030 target

SIP क्या है? इसमें कैसे निवेश किया जा सकता है ?

For Update Click Here  (और अधिक जानाकरी के लिए यहां क्लिक करें।)  

FOR MORE UPDATECLICK HERE
FACEBOOK PAGECLICK HERE
FACEBOOK GROUPCLICK HERE
WHATSAPP GROUPCLICK HERE
TELIGRAM GROUPCLICK HERE
YOUTUBECLICK HERE

 

 

 

 

 

FAQ:-

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड क्या है?

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड एक म्यूचुअल फंड है जो फ्लेक्सी कैप श्रेणी में आता है और विभिन्न बाजार पूंजीकरण वाली कंपनियों में निवेश करता है।

. क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड का प्रदर्शन कैसा है?

? क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड ने पिछले 10 वर्षों में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है, और 5 साल के निवेश पर 17.25% वार्षिक रिटर्न दिया है।

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड की फीस क्या है?

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड का फीस अनुपात 0.62% है।

क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड में निवेश करने का न्यूनतम राशि क्या है?

क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड में SIP के माध्यम से न्यूनतम ₹1000 और लम्पसम निवेश के लिए ₹5000 है।

क्या पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड में लॉक-इन पीरियड है?

नहीं, पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड में कोई लॉक-इन पीरियड नहीं है।

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड की शीर्ष होल्डिंग्स क्या हैं?

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड की शीर्ष होल्डिंग्स में एचडीएफसी बैंक लिमिटेड, पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड, बजाज होल्डिंग्स एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड, और आईटीसी लिमिटेड शामिल हैं।

क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड की अस्थिरता कैसे है?

क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड अस्थिरता से बचाव के मामले में निचले स्थान पर है।

क्या क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड ने पिछले 10 वर्षों में सर्वाधिक रिटर्न दिया है?

हाँ, क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड ने पिछले 10 वर्षों में फ्लेक्सी कैप फंडों में से सर्वाधिक रिटर्न दिया है।

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड का AUM कितना है?

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड का कुल संपत्ति प्रबंधन (AUM) ₹66,384 करोड़ है।

किस फंड में अधिक जोखिम है, पराग पारिख या क्वांट फ्लेक्सी कैप?

? क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड में पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड की तुलना में अधिक जोखिम है।

Indian Oil’s Big Goal: 20 Million Tonnes LNG Business by 2030

इंडियन ऑयल का बड़ा लक्ष्य: 2030 तक 20 मिलियन टन LNG कारोबार Indian Oil’s Big Goal Business by 2030 

नई दिल्ली: भारत की सबसे बड़ी तेल और गैस कंपनी, इंडियन ऑयल (Indian Oil) अपनी तरलीकृत प्राकृतिक गैस (LNG) कारोबार को 2030 तक 20 मिलियन टन प्रति वर्ष (MTPA) तक बढ़ाने की योजना बना रही है। यह मौजूदा 7.8 MTPA से ढाई गुना से अधिक होगा। यह जानकारी Money control, Yahoo News, और THE Print सहित कई विश्वसनीय समाचार स्रोतों द्वारा रिपोर्ट की गई है।

Indian oil target 2030

 विकास प्रमुख सुजॉय चौधरी ( Indian oil Big Goal Business by 2030)

विकास प्रमुख सुजॉय चौधरी ने गुरुवार को एक उद्योग सम्मेलन में यह घोषणा करते हुए कहा कि बिजली क्षेत्र भारत में LNG की मांग को बढ़ाने में एक प्रमुख कारक होगा। उन्होंने बताया कि देश में बिजली उत्पादन में तेजी से बढ़ते कोयले की जगह LNG का इस्तेमाल बढ़ रहा है। इसके अलावा, LNG का इस्तेमाल उर्वरक, पेट्रोकेमिकल्स और स्टील जैसे उद्योगों में भी बढ़ रहा है।

इंडियन ऑयल (Indian Oil) ने LNG कारोबार को बढ़ाने के लिए कई योजनाएं बनाई हैं। इनमें LNG टर्मिनलों और रिगैसिफिकेशन प्लांट्स की स्थापना, LNG पाइपलाइन नेटवर्क का विस्तार और LNG बंकरिंग सुविधाओं का विकास शामिल है।

कंपनी का मानना है कि LNG भारत के ऊर्जा सुरक्षा को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। LNG एक स्वच्छ ईंधन है जो कोयले और तेल की तुलना में कम प्रदूषण पैदा करता है। यह भारत के जलवायु परिवर्तन लक्ष्यों को प्राप्त करने में भी मदद करेगा।

सूत्रों के अनुसार, इंडियन ऑयल पहले से ही कई देशों से LNG की खरीद के लिए बातचीत कर रहा है। कंपनी घरेलू गैस उत्पादन को बढ़ाने के लिए भी कदम उठा रही है।

यह कदम भारत की ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने में महत्वपूर्ण योगदान देगा और देश को ऊर्जा सुरक्षा प्रदान करने में मदद करेगा।

 

For Update Click Here  (और अधिक जानाकरी के लिए यहां क्लिक करें।)

FOR MORE UPDATECLICK HERE
FACEBOOK PAGECLICK HERE
FACEBOOK GROUPCLICK HERE
WHATSAPP GROUPCLICK HERE
TELIGRAM GROUPCLICK HERE
YOUTUBECLICK HERE

ITC Salary “आईटीसी में करोड़पति कर्मचारियों की संख्या बढ़ी”

ITC Salary: – आईटीसी में करोड़पति कर्मचारियों की धमाकेदार एंट्री!

आईटीसी Limited में इस साल बड़ी तादाद में ऐसे कर्मचारी शामिल हुए जिनकी सालाना कमाई एक करोड़ रुपये से ऊपर है! पिछले साल के मुकाबले इस बार यह आंकड़ा 24% ज्यादा है. कंपनी की रिपोर्ट के अनुसार 68 नए उच्च-पदस्थ अधिकारी करोड़पति क्लब में शामिल हुए, जिससे कुल करोड़पति कर्मचारियों की संख्या 350 हो गई.

यह उछाल इस बात का संकेत है कि आईटीसी का कारोबार तेजी से बढ़ रहा है जिस से  ITC Salary  देने में कोई कमी नहीं कर रहा है। और कंपनी को मुनाफा भी अच्छा हो रहा है. कुल मिलाकर कर्मचारियों पर होने वाला खर्च भी 7% बढ़ा है, जिसमें वेतन और तनख्वाह शामिल है.

अखबारों की रिपोर्ट्स के मुताबिक, आईटीसी अपने कारोबार को लगातार फैला रही है, इसीलिए उन्हें ज्यादा लोगों की जरूरत पड़ रही है. पिछले 2-3 सालों में कंपनी ने 8 नए कारखाने और 2 होटल खोले हैं.

कंपनी के मुनाफे में भी 24% का इजाफा हुआ है. मार्च 2024 तक आईटीसी के 24,567 स्थायी कर्मचारी थे. इन कर्मचारियों की औसत कमाई में भी 10% की बढ़ोत्तरी हुई है. वहीं, अगर मैनेजमेंट के टॉप लोगों को छोड़ दें, तो बाकी कर्मचारियों की औसत कमाई में 9% का इजाफा हुआ है. ITC Salary  देने के साथ अपना employee भी बढ़ा रहा है। इस से साफ जाहिर है कंपनी ग्रो कर रही है.

गौर करने वाली बात ये है कि पुरुष कर्मचारियों की औसत कमाई महिला कर्मचारियों से थोड़ी ज्यादा है.

आपको बता दें कि आईटीसी सिर्फ सिगरेट ही नहीं बनाती, बल्कि पैकेटबंद खाने का सामान, कागज और कार्डबोर्ड, होटल, खेती से जुड़े सामान और दैनिक उपयोग की चीज़ें (FMCG) भी बनाती है.

ITC Salary

ITC में करोड़पति कर्मचारियों की संख्या में भारी उछाल 24% से ज्यादा: मुख्य बिंदु

कर्मचारी:

  • एक करोड़ रुपये से अधिक सालाना कमाने वाले कर्मचारियों की संख्या में 24.11% की वृद्धि हुई है। जिस से  ITC Salary देने में आगे है।
  • वित्त वर्ष 2023-24 में 68 अतिरिक्त उच्च-पदस्थ अधिकारी शीर्ष Salary ब्रैकेट में शामिल हुए।
  • कुल मिलाकर, 350 कर्मचारी अब एक करोड़ रुपये से अधिक कमाते हैं।
  • कर्मचारियों का औसत Salary 10% बढ़ा है।
  • पुरुष कर्मचारियों का औसत वेतन ₹7,14,281 है, जबकि महिला कर्मचारियों का औसत Salary ₹7,03,725 है।

कंपनी:

  • आईटीसी ने वित्त वर्ष 2024 में कर्मचारी लाभों पर ₹6,134.35 करोड़ रुपये खर्च किए।
  • यह पिछले वर्ष की तुलना में 6.9% की वृद्धि है।
  • कंपनी ने पिछले दो से तीन वर्षों में पूरे भारत में आठ नए कारखाने और दो होटल खोले हैं।
  • आईटीसी का लाभ 24.5% बढ़कर ₹18,753.31 करोड़ रुपये हो गया है।
  • कंपनी तंबाकू, पैकेज्ड फूड, पेपर और पेपरबोर्ड, आतिथ्य, कृषि वस्तुओं और स्वास्थ्य और व्यक्तिगत देखभाल (FMCG) सहित विभिन्न क्षेत्रों में कारोबार करती है

सारांश ITC Salary

आईटीसी में इस साल एक करोड़ रुपये से अधिक सालाना कमाने वाले कर्मचारियों की संख्या में 24% की उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। 68 नए कर्मचारी इस शीर्ष Salary ब्रैकेट में शामिल हुए, जिससे कुल संख्या 350 हो गई।

यह वृद्धि कंपनी के विस्तार और लाभप्रदायकता में 24.5% की वृद्धि दर्शाती है। आईटीसी ने पिछले दो वर्षों में 8 नए कारखाने और 2 होटल खोले हैं, जिसके लिए अधिक कर्मचारियों की आवश्यकता हुई है।

कर्मचारियों का औसत वेतन 10% बढ़ा है, जिसमें पुरुषों का औसत वेतन ₹7,14,281 और महिलाओं का औसत वेतन ₹7,03,725 है।

आईटीसी तंबाकू, पैकेज्ड फूड, पेपर, आतिथ्य, कृषि और FMCG सहित विभिन्न क्षेत्रों में काम करती है।

और अधिक जानकारी के लिए ये पोस्ट पढ़ना ना भूले।

share market me paisa kaise lagaye

स्टॉक मार्केट में CE और PE का मतलब 

प्रश्न:-1. वित्त वर्ष 2024 में आईटीसी में करोड़पति (वार्षिक ₹1 करोड़ से अधिक कमाने वाले) कर्मचारियों की संख्या में कितनी वृद्धि हुई?

उत्तर: वित्त वर्ष 2024 में करोड़पति कर्मचारियों की संख्या में 24.11% की वृद्धि हुई।

प्रश्न:-2. वित्त वर्ष 2024 में कितने नए कर्मचारी शीर्ष वेतन वाले वर्ग में शामिल हुए?

उत्तर: 68 नए कर्मचारी शीर्ष वेतन वाले वर्ग में शामिल हुए।

प्रश्न:-3. वित्त वर्ष 2024 तक आईटीसी में कुल कितने करोड़पति कर्मचारी हैं?

उत्तर: अब 350 कर्मचारी सालाना ₹1 करोड़ से अधिक कमा रहे हैं।

प्रश्न:-4. उच्च कमाई करने वाले कर्मचारियों की संख्या में वृद्धि आईटीसी के बारे में क्या बताती है?

उत्तर: यह बताता है कि आईटीसी का कारोबार और लाभप्रदायकता बढ़ रही है।

प्रश्न:-5. वित्त वर्ष 2024 में आईटीसी ने कर्मचारी लाभों पर कितना खर्च किया?

उत्तर: आईटीसी ने कर्मचारी लाभों पर ₹6,134.35 करोड़ रुपये खर्च किए, जिसमें वेतन और मजदूरी पर ₹5,352.94 करोड़ रुपये शामिल हैं।

प्रश्न:-6.आईटीसी ने अपने कार्यों का विस्तार कैसे किया है?

उत्तर: कंपनी ने पिछले दो से तीन वर्षों में पूरे भारत में आठ नए कारखाने और दो होटल खोले हैं।

प्रश्न:-7. क्या आईटीसी की लाभप्रदायकता में भी वृद्धि हुई?

उत्तर: हां, वित्त वर्ष 2023 में आईटीसी का लाभ 24.5% बढ़कर ₹18,753.31 करोड़ रुपये हो गया।

प्रश्न:-8.वित्त वर्ष 2024 में आईटीसी कर्मचारियों (केएमपी को छोड़कर) के लिए औसत वेतन वृद्धि क्या थी?

उत्तर: औसत पारिश्रमिक में 9% की वृद्धि हुई, जबकि माध्य वेतन में 5% की वृद्धि हुई (केएमपी को छोड़कर)।

Basic Services Demat Account (BSDA) (Chote Niveshako Ko Bada Badhawa, Sebi Ne Badhai Demat Record Ki Seema)

Basic Services Demat Account (BSDA):-

छोटे निवेशकों को बड़ा बढ़ावा, SEBI new rule सेबी ने बढ़ाई बेसिक डिमाट अकाउंट की सीमा

(Chote Niveshako Ko Bada Badhawa, Sebi Ne Badhai Essential Demat Record Ki Seema)

भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) ने शुक्रवार को शेयर बाजार में छोटे निवेशकों की भागीदारी बढ़ाने के लिए एक बड़ा फैसला किया है। सेबी ने Basic Services Demat Account (BSDA) की सीमा को मौजूदा 2 लाख से बढ़ाकर 10 लाख कर दिया है। यह नई गाइडलाइन 1 सितंबर से लागू होगी।

सेबी ने एक परिपत्र में कहा कि इससे छोटे निवेशकों को शेयर बाजार में निवेश करने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा और उनका वित्तीय समावेश सुनिश्चित होगा। बीडीएसए नियमित डिमाट खाते का एक सरल रूप है। सेबी ने छोटे निवेशकों पर लगने वाले शुल्कों को कम करने के लिए 2012 में बीएसडीए की शुरुआत की थी। बीएसडीए (BSDA)

Basic Services Demat Account

 Basic Services Demat Account (BSDA) खाता खोलने की पात्रता: SEBI new rule

निवेशक के पास केवल एक ही डिमाट खाता होना चाहिए, जहां वह एकमात्र या पहला खाताधारक हो। सभी डिपॉजिटरी में निवेशक के नाम पर केवल एक ही बीएसडीए खाता हो सकता है। खाते में जमा प्रतिभूतियों का मूल्य किसी भी समय ऋण और इतर ऋण (गैर-ऋण) दोनों को मिलाकर 10 लाख से अधिक नहीं होना चाहिए। इससे पहले, बीएसडीए खाता खोलने के लिए निवेशक के खाते में अधिकतम ₹2 लाख तक के ऋणपत्र और ₹2 लाख तक के अन्य प्रतिभूतियां हो सकती थीं। सेबी ने यह भी बताया कि ₹4 लाख तक के पोर्टफोलियो मूल्य के लिए बीएसडीए खाते का वार्षिक रखरखाव शुल्क निःशुल्क होगा।

वहीं, 4 लाख से अधिक और 10 लाख तक के पोर्टफोलियो मूल्य के लिए 100 का शुल्क लगेगा। अगर किसी खाते का मूल्य ₹10 लाख से अधिक हो जाता है, तो उस बीएसडीए खाते को स्वचालित रूप से नियमित डिमाट खाते में बदल दिया जाएगा। सेबी ने यह भी कहा कि बीएसडीए खाताधारकों को इलेक्ट्रॉनिक स्टेटमेंट निःशुल्क प्रदान किए जाएंगे। वहीं, भौतिक स्टेटमेंट के लिए ₹25 प्रति स्टेटमेंट का शुल्क लगेगा। परिपत्र के अनुसार, डिपॉजिटरी प्रतिभागी (डीपी) केवल पात्र खातों के लिए बीएसडीए खाता खोलेंगे,

जब तक कि खाताधारक ईमेल के माध्यम से नियमित डिमाट खाते का विकल्प न चुन ले। डीपी को मौजूदा पात्र डिमाट खातों की समीक्षा करनी होगी और उन्हें दो महीने के भीतर बीएसडीए में बदलना होगा, जब तक कि खाताधारक ईमेल के माध्यम से अपना नियमित डिमाट खाता बनाए रखने का विकल्प न चुन ले। यह समीक्षा प्रत्येक बिलिंग चक्र के अंत में जारी रहेगी। गौरतलब है कि सेबी ने इस महीने की शुरुआत में बीएसडीए की सीमा बढ़ाने के लिए एक परामर्श पत्र भी जारी किया था।

मुख्य बिंदु: Basic Services Demat Account (BSDA)

Chote Niveshako Ko Bada Badhawa (SEBI new rule)

  1. सेबी ने Basic Services Demat Account (BSDA)खाते की सीमा ₹2 लाख से बढ़ाकर ₹10 लाख की।
  2. यह परिवर्तन 1 सितंबर 2024 से लागू होगा।
  3. इसका उद्देश्य छोटे निवेशकों को शेयर बाजार में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करना है।
  4. बीएसडीए खाता खोलने के लिए, निवेशक के पास केवल एक डिमाट खाता होना चाहिए और खाते में जमा प्रतिभूतियों का मूल्य ₹10 लाख से अधिक नहीं होना चाहिए।
  5. बीएसडीए खाते के लिए वार्षिक रखरखाव शुल्क ₹4 लाख तक के पोर्टफोलियो मूल्य के लिए निःशुल्क होगा और ₹4 लाख से अधिक के लिए ₹100 होगा।

सारांश: SEBI ने बढ़ाई बेसिक  डीमेट अकाउंट की सीमा BSDA (Basic Services Demat Account)

भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) ने छोटे निवेशकों को शेयर बाजार में शामिल करने के लिए बेसिक सर्विसेज डिमाट अकाउंट (बीएसडीए) की सीमा को ₹10 लाख तक बढ़ा दिया है। यह परिवर्तन 1 सितंबर से लागू होगा। बीएसडीए खाता खोलने के लिए, निवेशक के पास केवल एक डिमाट खाता होना चाहिए और खाते में जमा प्रतिभूतियों का मूल्य ₹10 लाख से अधिक नहीं होना चाहिए। बीएसडीए खाते के लिए वार्षिक रखरखाव शुल्क ₹4 लाख तक के पोर्टफोलियो मूल्य के लिए निःशुल्क होगा और ₹4 लाख से अधिक के लिए ₹100 होगा।

FAQ:-

प्रश्न 1: BSDA (Basic Services Demat Account) खाता खोलने का क्या फायदा है?

उत्तर: बीएसडीए खाता खोलने का फायदा यह है कि इसमें कम शुल्क लगता है। उदाहरण के लिए, ₹4 लाख तक के पोर्टफोलियो के लिए कोई वार्षिक शुल्क नहीं है। साथ ही, इलेक्ट्रॉनिक स्टेटमेंट निःशुल्क मिलते हैं। यह छोटे निवेशकों के लिए शेयर बाजार में निवेश शुरू करने का एक किफायती तरीका है।

प्रश्न 2: BSDA (Basic Services Demat Account) खाते में कितना पैसा रखा जा सकता है?

उत्तर: अब आप बीएसडीए खाते में अधिकतम ₹10 लाख तक का निवेश कर सकते हैं। पहले यह सीमा केवल ₹2 लाख थी। इससे छोटे निवेशकों के लिए शेयर बाजार में विविधता लाना आसान हो जाएगा।

प्रश्न 3:अगर मेरा BSDA (Basic Services Demat Account) खाता ₹10 लाख से अधिक का हो जाता है तो क्या होगा?

उत्तर: अगर आपका बीएसडीए खाता ₹10 लाख से अधिक का हो जाता है, तो यह स्वचालित रूप से एक नियमित डिमाट खाते में बदल जाएगा। नियमित डिमाट खातों में बीएसडीए खातों की तुलना में थोड़े अधिक शुल्क लग सकते हैं। इसलिए, यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने निवेश पर नज़र रखें और यह सुनिश्चित करें कि आपकी निवेश रणनीति के अनुसार आपका पोर्टफोलियो बना रहे।

PM Surya Ghar Muft Bijli yojana,300 यूनिट मुफ्तबिजली – इस तरह करे आवेदन

PM Surya Ghar Muft Bijli yojana ,300 यूनिट मुफ्तबिजली

भारत में बिजली के उत्पादन और वितरण में भारी कमी है। बिजली की कमी से औद्योगिक के साथ-साथ कृषि उत्पादन भी गंभीर रूप से प्रभावित होता है। भारत सरकार ने बीजालिकी कमी को देखते हुए PM Surya Ghar Yojana योजना निकाली है जिससे भारत के लोगो को सोलर पैनल लगवाने के लिए 40% की सबसिडी की ( सहायता ) मिलेगी,PM Surya Ghar Yojana मुफ्त बिजली योजना के बारे मे आइए विस्तार से जानते है।

PM Surya Ghar Yojana
PM Surya Ghar Yojana

PM Surya Ghar Yojana मुफ्त बिजली योजना क्या है

PM Surya Ghar Yojana बिजली फ्री देने की योजना है भारत सरकार देश के घरो पर सोलर ऊर्जा लगाने को बढ़ावा देगी ओर उनपर 40% सबसिडी भी देगी जिससे भारत के लोगो को बहुत फाइदा होगा ओर सरकार को भी लगभग 75000 करोड़ तक का फायदा होगा इस  योजना की शुरुआत प्रधान मंत्री मोदी जी के द्वारा  15 फरवरी 2024 को हो चुकी है

PM Surya Ghar Yojana मुफ्त बिजली योजना के लाभ

PM Surya Ghar Yojana सोलर पैनल लगाने से होने वाले लाभ

  1. ऊर्जा की बचत : सोलर पैनल से निकालने वाली ऊर्जा निशुल्क होती है, जिससे बिजली के बिल में कमी आती है।
  2. प्रदूषण की कमी: सोलर ऊर्जा शुद्ध और प्राकृतिक होती है, जिससे वायु प्रदूषण में भी कमी आती है। ओर इससे प्रकरतीक को कोई नुकसान नही होता।
  3. रखरखाव ओर बचत : सोलर पैनल की उम्र लंबी होती है और उनका रखरखाव बहुत कम होता है, ओर यह जल्दी खराब नही होता।
  4. धन की बचत: बिजली के बिल में कमी के साथ-साथ, सोलर पैनल लगाने से धन का भी लाभ होता है, क्योंकि उनकी लागत एक बार होती है।
  5. सोलर पैनल लगाने से न केवल आपके घर की ऊर्जा खपत कम होती है,इससे हमारे पर्यावरण को बचाने में मदद मिलती है और ऊर्जा की स्थिरता को बढ़ावा देती है।

PM Surya Ghar Yojana मुक्त बिजली योजना के लिए पात्रता क्या है

1 योजना के लिए आवेदन करने के लिए 18+  होना चाहिए
2 भारत का नागरिक होना चाहिए
3 परिवार का अपना मकान होना चाहिए ओर मकान के छत पर सोलर पैनल लगाने के लिये पर्याप्त जगह होना चाहिए

आवेदन करने वाले का बैंक खाते से जुड़ा आधार कार्ड योजना में भाग लेने के लिए ज़रूरी है।
घर मे बिजली कनेक्षण होना जरूरी है

PM Surya Ghar Yojana के लिए जरूरी दस्तावेज़

  • आधार कार्ड ( जिसमे मोबाइल नंबर लोंक हो )
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल न. (बैंक ओर आधार दोनों से लिंक हो )
  • मूलनिवासी प्रमाण पत्र
  • बिजली का बिल
  • बैंक पासबुक
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • शपथ पत्र
  • इनकम का सर्टिफिकेट

PM Surya Ghar योजना 2024 के तहत ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

सबसे पहले आप इस सरकारी वैबसाइट पर जाए www.pmsuryaghar.gov.in

उसके बाद apply for rooftop solar पर क्लिक करे ।

स्टेप 1

पोर्टल पर निम्नलिखित के साथ पंजीकरण करें

* बिजली वितरण कंपनी का चयन करें

* अपना राज्य चुनें

* अपना जिला चुनें

* अपना उपभोक्ता खाता नंबर दर्ज करें

* मोबाइल दर्ज करें

चरण दो

* मोबाइल नंबर से लॉगिन करें

* छत के लिए आवेदन करें

चरण 3

* एक बार जब आपको व्यवहार्यता अनुमोदन मिल जाए, तो अपने डिस्कॉम में किसी भी पंजीकृत विक्रेता द्वारा संयंत्र स्थापित करवाएं।

चरण 4

* स्थापना पूर्ण हो जाने पर, संयंत्र का विवरण प्रस्तुत करें और नेट मीटर के लिए आवेदन करें

चरण 5

* एक बार जब आपको कमीशनिंग रिपोर्ट मिल जाए, तो पोर्टल के माध्यम से बैंक खाते का विवरण और एक रद्द चेक जमा करें। आपको ३० दिनों के भीतर अपने बैंक खाते में सब्सिडी प्राप्त हो जाएगी।

ज्यादा पूछे जाने वाले प्र्श्न्न (FOQ):

प्र्श्न्न :PM Surya Ghar Yojana क्या है।

यह एक सोलर पैनल लगवाने के लिए स्कीम है जो सोलर पैनल लगवाने के लिए 40% सबशिडी देगा

प्र्श्न्न:PM Surya Ghar Yojana के लिएअपलाई कैसे करे।

https://www.pmsuryaghar.gov.in वैबसाइट पर जाकर

प्र्श्न्न:PM Surya Ghar Yojana से किसको फायदा मिलेगा।

यह योजना भारत के सभी नागरिकों के लिए है इसमे कोई जाती वध्य नही है ।

प्र्श्न्न:PM Surya Ghar Yojana के लिए जरूरी डोकोमेंट क्या है ।

  • आधार कार्ड ( जिसमे मोबाइल नंबर लोंक हो )
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल न. (बैंक ओर आधार दोनों से लिंक हो )
  • मूलनिवासी प्रमाण पत्र
  • बिजली का बिल
  • बैंक पासबुक
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • शपथ पत्र
  • इनकम का सर्टिफिकेट

प्र्श्न्न:PM Surya Ghar Yojana के लिए लोन कहा से मिलेगा ।

https://www.pmsuryaghar.gov.in वैबसाइट पर जाकर अप्लाई करने के बाद लोन मिलेगा ।

और अधिक जानकारी के लिए ये पोस्ट पढ़ना ना भूले।

“लखपति दीदी योजना महिलाओं के लिए आत्मनिर्भरता का नया सफर”

प्रधान मंत्री जीवन ज्योति योजना।

Wealth bazzars से जुड़ने के लिए और अधिक जानकारी के लिए हमारे पेज को लाइक ज्वाइन करे।

Facebook Page:- Click Here

Facebook Group:-Click Here

YouTube channel:- Click Here

what is ce and pe in stock market?

 About CE & PE

दोस्तों अगर आप CE और PE के बारे में जानना चाहते है। तो इसका मतलब है आप कही न कही आप स्टॉक मार्केट में आने का सोच रहे है , या फिर आप स्टॉक मार्केट में  नये  निवेशक या ट्रेडर हो सकते है , जैसा की आपने question किया है  what is ce and pe in stock market?  दोस्तों मै यह बता दू , की यह CE and PE दोनों स्टॉक मार्केट के ऑप्शन ट्रेडिंग से relate करता है।

 

**स्टॉक मार्केट में CE और PE का मतलब (Meaning of CE and PE in the Stock Market) **

स्टॉक मार्केट में “CE” और “PE” दो महत्वपूर्ण शब्द होता  हैं।  जो निवेशकों के लिए अत्यधिक importance  रखता है।  “CE” का मतलब है ‘call  option ‘ और “PE” का मतलब है ‘put  option ‘

बात की जाइये इसके full form की तो CE का full फॉर्म Call European, और PE का full form” put European” होता है  इसलिए CE and Pe in stock market  used as  option trading .

 

Use of CE and PE in stock market

 

सबसे पहले जानते है CE का use, जैसा की आपको पता है यह  स्टॉक मार्केट के option ट्रेडिंग और investing में use किया जाता है।

CE यानि call ऑप्शन एक ऐसा विकल्प देता है।  जिसमे एक तरफ buyer और दूसरे तरफ seller होता है।

call सेलर को लगता है।  मार्केट  एक particular रेंज में रहेगा।  या मार्केट downtrend में  रहेगा तो।  कॉल सेलर option के Call को sell करता है।  और इसके विपरीत जो कॉल buyer होता है।  उससे लगता है की स्टॉक मार्केट आने वाले समय में ऊपर जायेगा  यानि मार्केट uptrend में रहेगा तो  वह कॉल को buy करता है।  और अगर मार्केट buyer और सेलर के विपरीत होता है।  तो profit और loss के दोनों भागीदार होते है।इससे आप समझ गाइये होंगे what is CE in stock market option trading.

 

Use of PE in stock market

 

जैसा की आप जानते है PE का मतलब होता है , PUT option , यह ट्रेडिंग और investing का एक ऐसा तरीका है।  जिस में इन्वेस्टर और ट्रेडर एक particular expire तक अपने स्टॉक को होल्ड कर सकते है। और expire बाद अपने स्टॉक को या तो रोल ओवर करना परता है या position से exit होना परता है।

Option के PE ट्रेडिंग में एक तरफ PE स्ट्राइक प्राइस का buyer होता है , और दूसरे तरफ PE seller होता है। Seller को लगता है की मार्केट ऊपर की तरफ जाइएगा और buyer को लगता है की मार्केट निचे आइयेगा। तो सेलर PE put option को सेल्ल करता है। और Buyer put buy करता है।

इस तरफ buyer और सेलर के बिच transition complete होता है। और ये दोनों प्रॉफिट और loss के भागीदार होते है।   इस तरह आप समझ सकते है what is ce and pe in stock market?

what is ce and pe in stock market

Most importance rule of what is CE and PE in stock market?

 

CE and PE दोनों स्टॉक मार्केट के Popular words है। और इन्ही दोनों words से आज कोई लाखो  करोड़ो कमा रहा है।  तो कोई रो रहा है।  अपने सारे पैसे गवा कर।

CE and PE यही दो words है जो लगो को बहुत आकर्षित करता है। और नई निवेश आते है। और बिना सीखे समझे स्टॉक मार्केट के सबसे danger जगह  कूद जाते है। सारा पैसा गवा बैठते है। और आखिर में स्टॉक मार्केट से बहार हो जाते है।

दोस्तों अगर आप भी नये है। सबसे पहले इससे जाने समझे और अच्छे learning करने के बाद small quantity में buy and sell करे। फिर आप success हो सकते है।

आइये जानते है CE and PE के most important point

CE and PE most important point

  1. PE and CE stock market के option trading में use होता है।
  2. PE and CE किसी भी stock और nifty-50 इंडेक्स और बैंक nifty इंडेक्स में होता है।
  3. किसी particular stock जिसमे F&O में इंडेक्स हो। यानि जिसमे option ट्रेडिंग facility available हो उसे में आप ट्रेडिंग कर सकते है।
  4. सभी option में buy या sell करने से पहले एक expire date fixed होता है। यदि आप option buy या sell करते है तो एक particular date तक आपको अपने trade को होल्ड कर सकते है , उसके बाद वह option जीरो हो जाता है। या expire हो जाता है।
  5. Option ट्रेडिंग में अगर आप sell करना चाहते है तो आपको ज्यादा पैसे देने होते है , लेकिन option seller का winning probability ज्यादा होती है। और buyer का winning probability कम होता है।

 

 

Example of a Call and Put Option  trading in stock market

example of CE and PE https://wealthbazzars.com/wp-content/uploads/2023/06/cropped-2-2.png

 

 

 

 

मान लीजिए आप निफ़्टी-50 इंडेक्स में option ट्रेडिंग करना चाहते है। suppose मार्केट अभी 19700 पर trade कर रहा है। और 19700 का strike price 100 रुपए है। और आपको लगता है की मार्केट अब निचे की तरफ जाइएगा।

चुकी आप buyer है तो, आप उस समय 19700 strike prices का 100 रुपए का Put एक lot buy कर लेते है।

एक lot लेने  के लिए आपको लगभग 100×50 = 5000 रुपए देने पड़ेगा।

अगर आप सही  है और  market निचे आया तो आप के put का primum बढ़ जायेगा।   यदि मार्केट चला गया 19600 पर तो आपके Put का prices बढ़ कर 140 हो गया तो आप को एक lot पर 40×50 =2000 का प्रॉफिट हो जाता है।और यदि आप गलत हुए तो इतने ही loss भी हो सकता है।

 

इसी प्रकार आप Call option में भी ट्रेडिंग कर सकते है।  यदि आपको लगता है मार्केट ऊपर जाइयेगा तो आप call buy कर सकते है।

इस तरह दोस्तों आप समझ सकते है . what is ce and pe in stock market? लेकिन ये सब करने से पहले आपको option की knowledge होना चाइये।

For more information
Facebook pageClick here
Facebook GroupClick here
WhatsApp GroupClick here
Telegram channelClick here
YouTube channelClick here

 

 

CE और PE का उपयोग क्यों करें (Why Use CE and PE

Why Use CE and PE

 

 

 

CE और PE का उपयोग निवेशक बहुत अच्छे से करते है। क्यों इसका use कर अपने position को हेज कर लेते है।  क्यों की जो long term investor होते है। उन्हें अपने portfolio को balance करने के लिए सबसे ज्यादा use करते है।  निवेशक हर समय अपने portfolio को देख कर निर्णय लेता है।  की कौन सा स्टॉक overvalue और कौन सा शेयर अंडर value है।  फिर option को buy या sell करते है।

जो रिटेल investor है अगर इसका use अपने position को हेज करने में करेंगे तो definitely अच्छा रिजल्ट आता है।

 

स्टॉक निवेश में CE और PE का तीन महत्वपूर्ण पॉइंट।

(Top 3 Importance of CE and PE in Stock Investing)

 

CE और PE का तीन महत्वपूर्ण पॉइंट जिसे use कर बड़े निवेशक बहुत सारा पैसा कमाते है। और आप आसानी से समझ सकते है what is ce and pe in stock market?

 

  1. Risk Management: – call और put का use कर आप अपने long term investing में अच्छा कमा सकते है। इसके द्वारा अपने potion को हेज  कर सकते है।  और अपने Risk को कम कर सकते है।

 

  1. Valuation of Prices CE और PE के माध्यम से निवेशक सही समय पर निवेश करने के फैसले ,ले  सकते  हैं। कॉल विकल्प का उपयोग नुकसान से बचाने और लाभ कमाने में मदद करता है, और PE अनुपात कंपनी की मूल्यों की तुलना करने में मदद कर सकता है।

 

  1. Investment Decisions CE और PE के माध्यम से निवेशक सही Investment Decisions लेने में मदत ले सकते है ,

 

 

सारांश  (Summary and Investment Insight)

 

दोस्तों CE और PE दोनों stock option और index option का पार्ट है।  इसके द्वारा आप अपने position को हेज कर सकते है।

साथ ही आप अपने position को option expire तक होल्ड कर सकते है।  यह तक आप इस सेगमेंट में intraday भी कर सकते है।  और प्रॉफिट और लॉस के भागीदार बन सकते है।

हाला की ऑप्शन ट्रेडिंग जितना आसान लगता है उतना आसान नहीं है।  लेकिन आप अपनी समझ और भुज के साथ इस सेगमेंट से अच्छा पैसा कमा सकते है।

क्यों की इस सेगमेंट यानि ऑप्शन ट्रेडिंग का खास बात ये है की ये ज्यादा तर ऑप्शन सेलर को प्रॉफिट देता है। और इस सेगमेंट में option सेलर की विनिंग probability ज्यादा होती है। इस तरह दोस्तों आप  उपरोक्त  सारांश से समझ सकते है what is ce and pe in stock market? 

Great FAQ for You

What is PE and CE in stock market?

PE का मतलब होता है put option से और इसका full फॉर्म होता है Call European, और CE का मतलब होता है Call option से जिसका full फॉर्म होता है Call European. ये दोनों टर्म स्टॉक मार्केट के option ट्रेडिंग से है।  जिसमे put buyer सोचता है , मार्केट निचे गिरे और call buyer सोचता है मार्केट ऊपर जाये जिन से उन्हें मुनाफा हो।

Best indicator for option trading?(ऑप्शन ट्रेडिंग के best indicter?)

Option ट्रेडिंग के लिए बहुत सरे indicator है but इनमे से सबसे ज्यादा important है। open interest, जो दिखाता है किस strike prices पर कितना option writing हुए है। और delta, gamma, theta, volume, and strike price ये सब बेसिक indicate है जो बहुत importance है option ट्रेडिंग के लिए।

delta kise kahate hain ? in option trading

Option trading में delta -1 से लेकर +1 तक होता है।  अगर किसी स्टॉक के strike  prices का  डेल्टा +1 है।   इसका मतब  अगर स्टॉक 1 पॉइंट moves करता है तो उसके option का premium जिसका डेल्टा +1 है 1 पॉइंट मूव कर जाइएगा। इस तरह जितना डेल्टा कम उतना option का premium कम move या fluctuate  करता है।

Option trading kaise sikhe?

option ट्रेडिंग सिखने के लिए सबसे पहले आपको बेसिक option ट्रेडिंग के बारे में पढ़े। चाहे आप ऑनलाइन या ऑफलाइन बहुत सारे ऑप्शन Available है. जो आपको आसनी से सीखा सकते है। और उसके बाद एक अच्छा डीमेट अकाउंट खोले। और एक lot से धीमे धीमे ट्रेडिंग करना सीखे।
For more information also read it:-

share market me paisa kaise lagaye

“शेयर मार्केट: एक लेखक के नजरिए से”share market me paisa kaise lagaye

अगर आप शेयर मार्केट में पैसे लगाने का सोच रहे है। या शेयर मार्केट में पैसे लगा रहे है। और जानना चाहते है पैसे कैसे लगाइए ,जिस से ज्यादा से ज्यादा मुनाफा हो  तो आप सही जगह पर  है  हम बातएंगे और सिखाएंगे share market me paisa kaise lagaye ?  जिस से हर एक रिटेल इन्वेस्टर को मुनाफा हो।

 

दोस्तों आज के डिजिटल युग में शेयर मार्किट का डिमांड बढ़ता ही जा रहा है अगर बात की जाइये  “जुलाई 2023 की तो   एक मिलियन नए डीमैट खाते खोले गए, जिसकी संख्या पिछले 18 महीनों में सबसे अधिक है। बात की जाइये CDSL और NSDL  डिपॉजिटरीज़ की तो इनके अनुसार जनवरी 2022 के बाद सबसे अधिक और  50 प्रतिशत ज्यादा है। पिछले 12 महीने में 2 मिलियन के करीब डीमेट अकाउंट खुले है।  जिसे से , डीमैट खातों की कुल संख्या अब 123.50 मिलियन के नए उच्च स्तर पर है। इस से पता चल रहा है की बहुत से रिटेल इन्वेस्टर मार्किट में आ रहे  है  और उन्हें पता नहीं है share market me paisa kaise lagaye ?

 

शेयर मार्किट से पैसा कामना बहुत आसान है ? लेकिन उस पैसे को बचा पाना बहुत मुश्किल होता है। इसलिए हम आज आपको share market me paisa kaise lagaye इसका सबसे आसान तरीका बताएंगे जिससे नए रिटेल इन्वेस्टर को ज्यादा से ज्यादा मुनाफा हो। अगर स्टॉक मार्किट की इतिहास को देखा जाइये तो 90% रिटेल इन्वेस्ट स्टॉक मार्किट में अपने पैसे को लूज़ करते है।

वह अपनी गलती और जल्दी पैसे कमाने के लालच में अपना पैसा गवा बैठते है।और स्टॉक मार्किट को अलबिदा कर देते है। दोस्तों आपको ऐसा नहीं करना है आपको यहां  से पूरा नॉलेज मिलेगा जिस से  आप अपने पैसे को बचाने  के साथ साथ पैसा कमा भी सकते हो।

तो आगे इस ब्लॉग को बड़े ध्यान  पढ़े जिस से आप नुकसान से बच सको। और सीख सको की share market me paisa kaise lagaye?

 

“शेयर मार्केट: पारंपरिक परिचय और विशेषता – PART 1”

 

शेयर मार्केट का परिचय: जानिए इसका महत्व

 

शेयर मार्केट – एक आर्थिक दुनिया  है। जहां पैसो की कोई कमी नहीं बस लोगो को नॉलेज की कमी है  और  share market me paisa kaise lagaye उस से पहले एक छोटा परिचय जान लेते है। आखिर स्टॉक मार्किट क्या है ?

दोस्तो शेयर मार्किट का नाम तो आपने सुना होगा जहा पर कंपनी के शेयर को खरीद और बेच सकते है।  यह एक वित्तीय विनिमय की दुनिया का महत्वपूर्ण हिस्सा है। इस मार्किट में किसी भी कंपनी के शेयर को खरीद कर आप उस कंपनी के हिसेदार बन जाते है।  और उस कंपनी के लाभ और हानि के भागीदार बन जाते है।  अगर वह कंपनी बहुत अच्छा Preform करती है तो आपको लाभ मिलता है।  और कंपनी का शेयर prices बढ़ जाता है। इसके बिपरीत अगर कंपनी अच्छा perform नहीं करती है। तो इन्वेस्टर को हानि भी हो सकता है।

 

Share market me invest kaise kare? और share market me paisa kaise lagaye?

 

शेयर मार्किट में पैसे कैसे लगाते  है और कैसे इन्वेस्ट करते है? इस question का answer देने से पहले ये जानना जरुरी है की से पहले शेयर मार्किट कितने प्रकार के है?

  1. भारतीय स्टॉक मार्किट के दो मुख्य इंडेक्स है जिसे निफ़्टी-50, और सेंसेक्स कहा जाता है। ये NSE और BSE पर ट्रेड होते है जिस में भारत की टॉप कंपनी ट्रेड करती है। (BSE) बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज,और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) , कोई भी आम आदमी किसी भी dement अकाउंट के द्वारा इस एक्सचेंज पर ट्रेड कर सकता है।

 

  1. commodity market सोना, चांदी, तेल, गैस, और अन्य कमोडिटीज का ट्रेड होता है। इसके अलावा कच्चा माल जैसे चीनी, कपास, कॉफी बीन्स आदि यह मार्किट में ट्रेड होता है। यह commodity मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड (MCX) एक्सचेंज पर ट्रेड होता है।

इस में भी पैसे  किसी भी dement अकाउंट के द्वारा लगा कर इन्वेस्ट किया जा सकता है , लेकिन कमोडिटी मार्किट का नॉलेज होना चाइये।

  1. म्यूच्यूअल फंड स्टॉक मार्किट में जिसे स्टॉक की समझ कम हो और जिनके पास टाइम की कमी हो और वह स्टॉक मार्किट में पैसा लगाना चाहते है और स्टॉक मार्किट का फायदा लेना चाहते है , तो उन्हें म्यूच्यूअल फण्ड में इन्वेस्ट करना चाइये। क्यों की यहां पर आप continue किसी भी फण्ड में इन्वेस्ट कर सकते हो अपने रिस्क प्रोफाइल के हिसाब से। अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं।

 

शेयर मार्केट में पैसे लगाने का तरीकाPART 2”

 

शेयर मार्केट में पैसा लगाने के कदम,“Strategies for Investing in the Stock Market,आइये जानते है share market me invest kaise kare?और share market me paisa kaise lagaye?

हम यहां विस्तार से देखेंगे की शेयर मार्किट में पैसा कैसे लगाइये और कैसे इन्वेस्ट करे?

शिक्षण प्राप्त करें (Educate Yourself):

दोस्तों शेयर मार्किट में आने से  पहले  अपने आप को Educate करना पड़ेगा तभी आप शेयर मार्किट में successful हो सकते हो। शेयर की किताबें पढ़ें,  कम से कम बेसिक नॉलेज होना चाहिए।

*ऑनलाइन कोर्सेस*: –

ऑनलाइन कोर्स, और बहुत सरे ओपन sources है जहा से आप   शेयर मार्किट के बारे में नॉलेज ले सकते हो। और YouTube video भी अच्छा ऑप्शन हो सकता है। जहा से आप सिख सकते है।

*वित्तीय सलाह लें*: –

एक वित्तीय सलाहकार से  आप अपने इन्वेस्ट का नॉलेज और आपके वित्तीय लक्ष्यों के साथ निवेश की सलाह ले सकते है।

 

डीमैट खाता खोलें (Open a Demat Account):

शेयर मार्किट में निवेश करने का पहला स्टेप है एक अच्छा डीमेट अकॉउंट अगर आपके पास अच्छा डीमेट अकाउंट नहीं है तो ट्रेडिंग में आगे चलकर प्रॉब्लम हो सकता है।

डीमेट अकाउंट खोलने के लिए सबसे आसान तरीका ऑनलाइन है। इसके लिए आपको कुछ जरुरी डॉक्यूमेंट की जरुरत पड़ेगा। जैसे की

*आधार कार्ड *

*पेन कार्ड *

*बैंक अकाउंट*

ये तीनो डॉक्यूमेंट के साथ 24 hours में डीमेट अकाउंट खुल जाता है। बात की जाइये अच्छा डेमेन्ट अकाउंट की तो आपको Zerodha जो डिस्काउंट ब्रॉकर है जो भारत का नंबर 1 है। आप इसको consider कर सकते है। 

 

निवेश की योजना बनाएं (Create an Investment Plan):

निवेश की योजना बनाना भी एक बहुत बड़ा task है। इसके लिए आपको सबसे पहले वित्तीय लक्ष्य, निवेश की अवधि और आपकी रिस्क लेने की capacity जानना बहुत जरुरी है।

आइये ये उदाहरण से समझते है share market me paisa kaise lagaye? और इसकी  निवेश की योजना

उदाहरण के लिए

आपका लक्ष्य: – 1 करोड़ रुपए का है और ये पैसे आपको घर बनाने ,बच्चो की शादी या अन्य काम के लिए लक्ष्य बना सकते है।

इसके लिए आप अपने से भी निवेश कर सकते है। , और सलहकार की मदत भी ले सकते है। और एक सही फण्ड का चुनाव कर के इन्वेस्ट कर सकते है।

 

प्रारंभिक निवेश करें (Start with Initial Investments):

नए निवेशकों के लिए यह अच्छा तरीका होता है की वह शेयर मार्केट में छोटे छोटे अमाउंट से निवेश स्टार्ट करे। ताकि की वह शेयर मार्किट को अच्छी तरह समझ पाइये। और उसके के अंदर शेयर मार्किट के प्रति आत्म-विश्वास बढ़ जाये और फिर आसानी से share market me paisa kaise lagaye सिख जाइयेगे.

निवेश को मॉनिटर करें (Monitor Your Investments):

निवेश को नियमित रूप से ट्रैक करना  महत्वपूर्ण होता  है। जब आप निवेश करते है तो अपने निवेश की स्थिति और  नियमित अंतराल पर जांचना चाहिए और अगर आवश्यक हो तो उससे अपडेट करना चाहिए।


शेयर-मार्केट-में-पैसे-लगाने-का-तरीका

 

निवेश के लिए सलाह और टिप्स PART 3”

यदि आप को शेयर मार्केट का बेसिक और share market me paisa kaise lagaye ये पता है तो

शेयर मार्केट में पैसे लगाते समय निवेश की सलाह और टिप्स महत्वपूर्ण होता है। यहां कुछ महत्वपूर्ण सुझाव हैं

निवेश की सलाह लें (Seek Investment Advice):

यदि आप नए निवेशक हैं और स्टॉक मार्केट का बेसिक नॉलेज रखते है तो आपको एक वित्तीय सलाहकार का सलाह लेकर उचित निवेश करना चहिये।

निवेश की विविधिकरण करें (Diversify Your Investments):

यदि आप निवेश करना स्टार्ट कर दिए है तो अपने पोर्टफोलियो को Diversify चाहिए इससे आपका रिस्क कम हो जाता है। और प्रॉफिट का चांस ज्यादा बढ़ जाता है।

 

सब्र रखें (Exercise Patience):

शेयर मार्केट में सफलता पाना है और यदि आप सब्र रखना सिख चुके है और share market me invest kaise kare?और share market me paisa kaise lagaye? ये जानते  है।  तो आपको सफल होने से कोई रोक नहीं सकता है।

क्यों की स्टॉक मार्केट बहुत ही volatile होता है। यहां सब्र रखना बहुत important है।

For More Information

Join the Facebook page                                                                     click here

Join the Facebook group                                                                   click here

Join Telegram                                                                                     Click here

Join the WhatsApp                                                                            click here

Join Instagram                                                                                    click here

Join YouTube                                                                                       click here

 

 

निवेश में सफलता पाने के उपाय PART: -4

 

निवेश में सफलता पाने के लिए और Share market me kaise invest kare इसके उपायों को समझना बहुत महत्वपूर्ण है।

यहां कुछ उपायों को समझते है।

नियमित रूप से मार्केट का अध्ययन करें (Regularly Study the Market):

स्टॉक मार्किट को  नियमित रूप से अध्ययन करने से  स्टॉक का ट्रेडिंग पैटर्न्स, स्टॉक का ट्रेडिंग Nature ,और fundamental analysis  समझ कर अपने निवेश को भेहतर बना सकते है।

वित्तीय लक्ष्य तय करें (Set Financial Goals):

जब आप निवेश स्टार्ट करते है। अर्थात निवेश के प्रारंभ में ही आपको अपने वित्तीय लक्ष्य स्पष्ट  होना चाहिए इससे निवेश में सही दिशा में आगे बढ़ने में  मदत मिलता है।

अपने निवेश को नियमित रूप से मॉनिटर करें (Regularly Monitor Your Investments):

निवेश की स्थिति को नियमित रूप से अपडेट करना बेहद आवश्यक है।  चेक करते रहना चाहिए की आप का निवेश सही दिशा में जा रहा है की नहीं।

share market me paisa kaise lagaye

 

निवेश के बाद क्या करे ?(What After Investment) PART-5

Share market me nivesh करने के बाद Share market me paise को कैसे बढ़ाये ? और अपने लक्ष्यों को पूरा करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण कदम उठाने होंगे।

 

निवेश की स्थिति को मॉनिटर करें (Monitor the Investment):

सही समय पर लाभ निकालें (Withdraw Profits at the Right Time):

निवेश को विविधिकरण करें (Diversify Investments):

निवेश को बढ़ावा दें (Grow the Investment):

निष्कर्ष

दोस्तों अगर आपने शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने का मन बना लिया है। या फिर इन्वेस्टिंग स्टार्ट कर दिया है। अगर आप ऊपर समझाये हुए Point पर ध्यान देकर इन्वेस्ट करते है तो आप जरूर सफल होंगे। शेयर मार्किट में थोड़ा धैर्य बना कर इन्वेस्ट करना होता है। इससे आपको को प्रॉफिट का चांस  बढ़ जाता है।

और आप easily सिख जाते है Share market me invest kaise kare?

Could you read it?

जोमाटो शेयर Target

टाटा Elxsi शेयर Target

 

सूचना: यह लेख केवल निवेश से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने के उद्देश्य से लिखा गया है और किसी भी निवेश निर्णय की सलाह नहीं है। साथ ही, निवेश के साथ आरंभिक जोखिमों को समझने और सलाहकार से परामर्श लेने की सलाह दी जाती है। इसलिए, निवेश करने से पहले एक वित्तीय सलाहकार से परामर्श लेना बेहद महत्वपूर्ण है।

शेयर मार्केट में कैसे पैसा लगाया जाता है?

1 . सबसे पहले एक डिस्काउंट ब्रोकर के पास डीमेट अकाउंट खोले
2 . थोड़ा बेसिक नॉलेज ले कैसे स्टॉक ख़रीदा और बेचा जाता है।
3 . उसके बाद डेमेन्ट अकाउंट में पैसा ऐड करे
4 . शेयर का चुनाव करे
5 . उसके बाद buy or sell करे।
6 . लेकिन ये सब करने के लिए स्टॉक मार्केट का बेसिक पता होना चाहिए वरना लॉस हो सकता है।

भविष्य में कौन सा शेयर सबसे ज्यादा रिटर्न देता है?

भविष्य में सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाले शेयर की बात की जाइये तो ये कंपनी के फंडामेंटल पर डिपेंड करता है।
अगर कंपनी का fundamental ठीक है तो कंपनी फ्यूचर में ग्रो करेगी।
जैसे बात की जाइये टाइटन कंपनी जो year 2000 में 4 रुपए का था और आज वह कंपनी large cap कंपनी है।

मोबाइल से शेयर कैसे खरीदे?

मोबाइल से शेयर खरीदना आसान है , इसके लिए आप के पास अच्छा डेमेन्ट अकाउंट होना चाइये।
और आप मोबाइल से ट्रेडिंग कर सकते है। सभी ब्रोकर के पास मोबाइल APP होता है जिस से आप आसानी से शेयर buy और sell कर सकते है।

“लखपति दीदी योजना महिलाओं के लिए आत्मनिर्भरता का नया सफर”

Lakhpati Didi Yojana

 

Lakhpati Didi Yojana  भारत सरकार दौरा चलाई जा रही एक ऐसी योजना जिसका उदेश्य  महिलाओं को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाना जिस के अन्तर्गत भारत के उन सभी महिलाओ को Lakhpati Didi बनाया जाना है जो महिला अभी आत्म निर्भर नहीं है।और वह आत्मनिर्भर बनाना चाहती है। ये योजना का जिक्र प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा हाल में ही 15 अगस्त  2023 को  भारत के राजधानी नई दिल्ली से लाल किले से भाषण के दौरान किया गया था।  प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी ने बताया  Lakhpati Didi Yojana  महिलाओं के लिए एक कल्याणकारी योजना है।

अगर आप Lakhpati Didi Yojana के बारे में जानना चाहते है ? Lakhpati Didi Yojana क्या है ? इसका लाभ कैसे लिया जा सकता है ? और अगर आप सोच रहे है कैसे इसका आवेदन करे ? तो हमरा लेख आप के काम आ सकता  है।

Lakhpati Didi Yojana आसान भाषा में समझे 

भारत सरकार द्वारा और भारत के अलग अलग राज्य द्वारा शुरुआत की गई यह योजना  एक नई पहल जो भारत के महिलाओ को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाने का काम करेगा यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण मजबूत योजना है जिसका नाम  Lakhpati Didi Yojana है।  इसके द्वारा भारत के महिलाओ को रोजगार दिया जायेगा।

 

Lakhpati Didi Yojana द्वारा भारत सरकार, सेंट्रल गवर्नमेंट , नरेंद्र मोदी जी  द्वारा हाल में ही बताया गया है की 2 करोड़ महिलाओ को इसका लाभ मिलेगा जिसके अतर्गत महिलाओ को ट्रेनिंग प्रदान करने का लक्ष्य रखा गया है। इस के द्वारा आवेदन करने वाली महिलाओ को एलईडी बल्ब निर्माण,ड्रोन पायलट,प्लंबिंग, इत्यादि की ट्रेनिंग दी जाएगी।

“उद्देश्य:-महिलाओं के लिए आत्मनिर्भरता और समाज के विकास की दिशा में Lakhpati Didi Yojana “

इस योजना का मुख्य उद्देश्य भारत के महिलाओ को आत्मनिर्भर बनाना, विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार  देना।  ताकि ज्यादा से ज्यादा महिलाये आत्मनिर्भर बन सके और समाज में एक अच्छा जीवन और पहचान बना सके।

Lakhpati Didi Yojana महिलाओ के लिए एक वरदान साबित हो सकता है। क्यों की इसके माध्यम से महिलाये अपने सपनो को पूरा कर सकती है। और आत्म-साक्षर बनकर अपने दम पर कुछ  नया  कर सकती है।

 

lakhpati-Didi-Yojana-2023-to-2025

“Lakhpati Didi Yojana : महिलाओं के साथ सशक्तिकरण की ओर प्रधानमंत्री मोदी जी का कदम”

15 अगस्त 2023 को भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने दिल्ली के लाल किले से भाषण देते  हुए कहा भारत के महिलाओ को आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाना बहुत जरुरी  है। इसके लिए एक योजना का जिक्र किया जिसे Lakhpati Didi Yojana कहा गया , इस योजना के द्वारा  2 करोड़ महिलाओ को लखपति बनाया जाइएगा।

 

नरेंद्र मोदी जी ने ये भी कहा आपने बैंक दीदी,आंगनबाड़ी दीदी,और  दवाई दीदी का नाम सुना होगा।  लेकिन आने वाले समय में आप को Lakhpati Didi का नाम सुने को मिलेगा। Lakhpati Didi Yojana से करोड़ो महिलाये Lakhpat बनेगी और अपने जीवन और  समाज को बेहत कर सकती है

Lakhpati-Didi-Yojana-आसान-भाषा-में-समझे

 

 

 

 

 

 

 

” Lakhpati Didi Yojana लाभ एवं विशेषताएं और आर्थिक 5 लाख रुपए की सहायता”

 

  • Lakhpati Didi Yojana का लाभ भारत के सभी महिलाओ के लिए है।
  • इस योजना के द्वारा फ्री स्किल ट्रैनिंग दी जायेगी उन महिलाओ को जो बेरोजगार है। जिस से उनका कौसल विकाश हो सके।
  • इसके साथ ही आवेदक महिलाओ को आर्थिक 5 लाख रुपए की सहायता दी जायेगी जिस से वह अपना स्व-रोजगार कर सकती है।
  • साथी ही मोदी जी ने 2025 तक का लक्ष्य रखा है जिस में 1.25 लाख महिलाओ को लखपति दीदी बनाए जाइयेगे।
  • महिलायों को कौसल विकाश , फ्री ट्रेनिंग के साथ साथ उन्हें सर्टिफिकेट भी दिया जाइएगा जीसे उन्हें ज्यादा से ज्यादा फायदा हो सके। इससे उन्हें नौकरी और अपना खुद का व्यवसाय करने में दिक्क्त नहीं होगा।
  • Lakhpati Didi Yojana से 2 करोड़ महिलाओ को प्रसिक्षित किया जाइएगा तथा ये 2 करोड़ महिलाओ के लिए एक अच्छा सुनेहरा अवसर है।
  • Lakhpati Didi Yojan से महिलाओ को अलग अलग क्षेत्र में ट्रेनिंग दी जायेगी। जैसे की एलईडी बल्ब निर्माण,ड्रोन पायलट,प्लंबिंग, इत्यादि की ट्रेनिंग दी जाएगी।

पात्रता (Eligibility) Lakhpati Didi Yojana “

 

  • भारत के सभी महिलाये जो भारत में निवास करते है वह सभी Lakhpati Didi Yojan के पात्र है।
  • फिलहाल में ये योजना भारत के अलग अलग राज्य द्वारा चलाई जा रही है।
  • राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही इस योजना द्वारा आप जिस राज्य में रहते है। अभी इसका लाभ ले सकते है।
  • हर राज्य साकार का अपना अपना अलग अलग पैमाना है।

  और  जैसे ही Government के तरफ से ऑनलाइन आवेदन स्टार्ट होगा इस वेबसाइट के मध्यम से आप को अपडेट कर दिया जाइएगा

लखपति दीदी योजना दस्तावेज (Documents)

 

  • पेन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • फ़ोन नंबर
  • ईमेल
  • और पासपोर्ट साइज फोटो
FOR MORE UPDATECLICK HERE
FACEBOOK PAGECLICK HERE
FACEBOOK GROUPCLICK HERE
WHATSAPP GROUPCLICK HERE
TELIGRAM GROUPCLICK HERE
YOUTUBECLICK HERE

 

 

 

 

“Lakhpati Didi Yojana सारांश”

लखपति दीदी योजना भारत सरकार द्वारा महिलाओ को फ्री स्किल ट्रैनिंग दी जायेगी उन महिलाओ को जो बेरोजगार है। जिससे उनका कौसल विकाश हो सके।

lakhapti didi yojana 1 1 https://wealthbazzars.com/wp-content/uploads/2023/06/cropped-2-2.png

 

FAQ:-

1.लखपति दीदी योजना कब शुरू हुई?

Lakhpati Didi Yojana का शुरुआत 4 नवंबर 2022 को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी द्वारा स्टार्ट किया गया था।
फिर 15 अगस्त 2023 को मोदी जी ने लाल किले से  कहा  केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2025 तक 1.25  लाख  महिलाओ को Lakhpati Didi योजना का लाभ मिलेगा.

2.लखपति दीदी योजना क्या है?

Lakhpati Didi Yojana भारत साकार की एक नहीं पहल है।  जिसके द्वारा भारत के महिलाओ को प्रशक्षित किया जाइएगा ,
महिलायों को कौसल विकाश किया जाइएगा  , फ्री ट्रेनिंग के साथ साथ उन्हें सर्टिफिकेट भी दिया जाइएगा।

3.उत्तराखंड में लखपति दीदी योजना क्या है?

उत्तराखंड के  लखपति दीदी योजना उत्तराखंड सरकार द्वारा चलाई जाती है।  यह योजना 2022 में लाई गई थी , इसके द्वारा  राज्य के 1.25  लाख महिलाओ को आर्थिक विकास का लक्ष्य रखा  गया है।

 

Tata Motors के शेयरों में कटौती, Maruti Suzuki के स्टॉक में बढ़ोतरी, अगस्त बिक्री डेटा का असर।

Tata Motors के शेयरों में कटौती, Maruti Suzuki के स्टॉक में बढ़ोतरी, अगस्त बिक्री डेटा का असर।

अगस्त में पैसेंजर वाहनों के सेगमेंट में Tata Motors ने 45,513 इकाइयाँ बेची, जो साल पहले माह की 47,166 इकाइयों के 3.5 प्रतिशत कम हैं। इसमें Tata Motors के पैसेंजर वाहनों और Tata Passenger Electric Mobility के बिक्री शामिल हैं।

Tata Motors के शेयर्स, जिन्होंने आज पहले दिन 614.80 रुपये के हाई पर पहुंचा, अगस्त बिक्री में समय पर फ्लैटिश वृद्धि की जानकारी देने पर गिर गए। Tata समूह की कंपनी ने कहा कि उसकी कुल घरेलू बिक्री अगस्त में 76,261 इकाइयों के खिलाफ आई, जिसमें पिछले साल के उसी माह में 76,479 इकाइयाँ थीं। वहीं, Maruti Suzuki ने अपने शेयर्स को 3 प्रतिशत की वृद्धि के रूप में देखा, कार निर्माण कंपनी ने अपनी सबसे अधिक मासिक बिक्री मात्र 3 प्रतिशत के वृद्धि के साथ पूरी की। जिस से Maruti Suzuki के स्टॉक में बढ़ोतरी हुई।

 

“Tata Motors के शेयरों में कटौती,पैसेंजर वाहनों सेगमेंट में 5 प्रतिशत कम,Maruti Suzuki के स्टॉक में बढ़ोतरी,

                         Important Key पॉइंट

  • पैसेंजर वाहनों के सेगमेंट में, Tata Motors ने अगस्त में 45,513 इकाइयाँ बेची, जो साल पहले माह की 47,166 इकाइयों के 5 प्रतिशत कम हैं इसी कारन Tata Motors के शेयरों में कटौती हुई।
  • इसमें Tata Motors के पैसेंजर वाहनों और Tata Passenger Electric Mobility के बिक्री शामिल हैं, जो कि Tata Motors की सहायक कंपनियों हैं।
  • वाणिज्यिक वाहन बिक्री वर्षों के समय में 2 प्रतिशत योय बढ़ी, Tata Motors ने कहा।
  • Antique Stock Broking ने उम्मीद की थी कि अच्छे प्रतिस्पर्धी प्रतिक्रिया के कारण Tata Motors की PV बिक्री 48,500 इकाइयों की होगी।
  • अगस्त में MH&ICV की घरेलू बिक्री, ट्रक और बसों सहित, 13,306 इकाइयों पर खड़ी रही, Tata Motors ने कहा।
  • Antique Stock Broking ने CV बिक्री की उम्मीद 33,500 इकाइयों की थी।
  • अगस्त में MH&ICV की कुल घरेलू और अंतरराष्ट्रीय व्यापार, ट्रक और बसों सहित, 13,816 इकाइयों पर खड़ी रही, Tata Motors ने कहा।

 

Tata Motors के शेयरों में कटौती, Maruti Suzuki के स्टॉक में बढ़ोतरी, अगस्त बिक्री डेटा का असर।

Maruti Suzuki के शेयरों में बढ़ोतरी

वहीं, Maruti Suzuki के शेयरों में 3 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई, कार निर्माता ने कुल 1,89,082 इकाइयाँ बेची, जो कि उसकी सबसे अधिक मासिक बिक्री है। माह की कुल बिक्री में घरेलू बिक्री 1,58,678 इकाइयों की थी, अन्य OEM को 5,790 इकाइयों की बिक्री हुई, और निर्यात 24,614 इकाइयों में हुई, Maruti Suzuki ने एक बीएसई फाइलिंग में कहा।

इसके अलावा, निवेशकों को यह जानकर खुशी होगी कि Maruti Suzuki ने अपनी सबसे अधिक मासिक बिक्री का सामर्थ्य प्रमाणित किया ह

For More Information

Join WhatsApp group

Facebook group

Telegram group

YouTube channel

निष्कर्षण

Tata Motors के शेयरों में कटौती, Maruti Suzuki के स्टॉक में बढ़ोतरी,Summery 

इस लेख में हमने देखा कि अगस्त में Tata Motors के पैसेंजर वाहनों के सेगमेंट में थोड़ी सी कमी आई है, जबकि Maruti Suzuki ने अपनी सबसे अधिक मासिक बिक्री की ओर बढ़त दिखाई है। इससे हम देख सकते हैं कि ऑटोमोबाइल उद्योग में संवेग और ब्रस्टीयोसिटी बनी हुई है, जब भी एक उत्पादक कंपनी बिक्री की बढ़ती मांग का सामना करती है। इस विपरीत में, एक अच्छी विवरण और समर्थन के साथ उत्कृष्ट ग्राहक सेवा प्रदान करने में सहायक कंपनियों के लिए संघर्ष करना महत्वपूर्ण होता है।

 

अस्वीकरण: “किसी भी परिस्थितियों में कृपया ध्यान दें कि इस प्लेटफ़ॉर्म पर दी गई जानकारी के आधार पर व्यापारिक निर्णय न लें। किसी भी वास्तविक निवेश या व्यापारिक निर्णय से पहले, कृपया किसी योग्य दलाल या अन्य वित्तीय सलाहकार से परामर्श लें। सभी जानकारी केवल शैक्षिक और सूचना के उपयोग के लिए है। Wealth Bazzars इसके सभी सामग्री के खिलाफ किसी भी प्रकार की गारंटी, स्पष्ट या अंतर्निहित, देने का दावा नहीं करता और इससे संबंधित सभी वारंटीज को यहाँ से अस्वीकार करता है।”

 

 

For more read

Zomato shares Prices Target

Tata Elxsi share prices target 

पराग पारिख फ्लेक्सी कैप फंड vs. क्वांट फ्लेक्सी कैप फंड: कौन है विजेता? शेयर मार्किट से कमाना बहुत आसान है ? Tata Motors के शेयरों में कटौती, Maruti Suzuki के स्टॉक में बढ़ोतरी, अगस्त बिक्री डेटा का असर।